Bikaner update

नकल माफिया के गुर्गे सहित दो पकड़े:राजस्व अधिकारी और अधिशासी अधिकारी परीक्षा में नकल करवाने का है आरोप, राज्य के कई जिलों में काटी फरारी

नकल माफिया के गुर्गे सहित दो पकड़े:राजस्व अधिकारी और अधिशासी अधिकारी परीक्षा में नकल करवाने का है आरोप, राज्य के कई जिलों में काटी फरारी

बीकानेर

गिरफ्तार सुनील बिश्नोई। - Dainik Bhaskar

गिरफ्तार सुनील बिश्नोई।

राजस्व अधिकारी एवं अधिशासी अधिकारी परीक्षा में नकल के मामले में पुलिस ने नकल माफिया तुलसाराम कालेर के दो गुर्गों को गिरफ्तार कर लिया है। दोनों इनामी बदमाश है। दोनों से नकल के कई मामलों का खुलासा होने की उम्मीद जताई जा रही है। बीकानेर पुलिस ने जोधपुर के बाप निवासी सुनील बिश्नोई को गिरफ्तार किया है। सुनील नकल माफिया तुलसाराम कॉलेर का खास गुर्गा है। जिसने तुलसाराम के साथ मिलकर भर्ती परीक्षा में सिर पर नकली बिग लगवाकर राजस्व अधिकारी एवं अधिशासी अधिकारी परीक्षा 2023 में नकल का प्रयास करवाया था। उस पर 25 हजार रुपए का इनाम है। सुनील बिश्नोई पुत्र उमेदा राम निवासी केलनसर, बाप जोधपुर पर गंगाशहर व नयाशहर पुलिस थाने में नकल के 3 प्रकरण चल रहे हैं और तीनों में ये फरार है। सुनील पिछले कई महीनों से जयपुर, जोधपुर, फलौदी और गुजरात में फरारी काट रहा था। पुलिस ने उस पर नजर रखी थी, जिसके बाद उसे दबोच लिया

वहीं, जयपुर पुलिस के पांच हजार रुपए के इनामी बदमाश अमर सिंह पुत्र केशव दास निवासी बीकानेर को भी गिरफ्तार किया गया है। वो वर्ष 2022 से पुलिस थाना मानसरोवर, जयपुर दक्षिण के पोक्सो प्रकरण मे फरार था। शातिर तरिके से पिछले 2 साल से फरारी काट रहा था। नकल प्रकरण का अनुसंधान अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शहर दीपक शर्मा कर रहे हैं।

दीपक यादव की खास भूमिका

वांछित इनामी अपराधियों को पकड़ने में साइबर सेल के एएसआई दीपक यादव की मुख्य भूमिका रही। दोनों बदमाशों पर लंबे समय से नजर रखी जा रही थी। इनकी लोकेशन सहित अन्य टेक्निकल सपोर्ट के साथ इन्हें पकड़ा गया।

About the author

THE INTERNAL NEWS

Add Comment

Click here to post a comment

CommentLuv badge

Topics

Google News
error: Content is protected !!